कमाल है ना # प्रेरणादायी # जागृति # Quotes # सुप्रभात #

कमाल है ना 👌👌

किस्मत सखी नहीं फिर भी रुठ जाती है!
बुद्वि लोहा नही फिर भी जंग लग जाती है!
आत्मसम्मान शरीर नहीं फिर भी घायल हो जाता है और
इन्सान मौसम नही फिर भी बदल जाता है
नज़र बदली तो नज़ारा बदल गया
किस्ती ने रुख़ बदला तो किनारा बदल गया

कमाल है ना

सुप्रभात

आपकी आभारी विमला विल्सन मेहता
जय सच्चिदानन्द 🙏🙏