आज का सुविचार #सुप्रभात #जागृति #प्रेरणादायी #have a nice day #quotes#

1. बातचीत में प्रेम,अपनापन और शान्ति का समावेश हो

तो सम्मान स्वत: ही मिल जायेगा

2. घृणा मनुष्य को कभी खिलने नहीं देती

और प्रेम मनुष्य को कभी मुरझाने नहीं देता

आज से हम खिलते रहें

और प्यार की खुशबू फैलाते रहें

3. जब दर्द और कड़वी बोली दोनों सहन होने लगे ,

तो समझ लेना की जीना गया

प्रतिस्पर्धा ज्येष्ठ बनने की नहीं,

श्रेष्ठ बनने की होनी चाहिए

4. जैसे फल और फूल किसी की प्रेरणा के बिना ही

अपने समय पर वृक्षों में लग जाते है

उसी प्रकार किये हुये अच्छे और बुरे कर्म भी

अपने आप जीवन में स्वत: फल देने आते रहते है

5. जीभ सुधर जाए तो

जीवन सुधरने मैं वक़्त नहीं लगता

6. अपनो से बस उतना हीरूठोकि

आपकी बात और सामने वाली की

इज्जत बरकरार रहे

7. “दर्द होता तोखुशीकी कीमत होती

अगर मिल जाता सब कुछ केवल चाहने से तो

दुनिया मेंऊपर वालेकी जरूरत ही होती

मिटाने से मिटते नहीं येभाग्य केलेख

कर्मअच्छेतू करता चल ,फिरईश्वरकीमहिमादेख

8. परखता तोवक़्तहै ,

कभीहालातके रूप में तो कभीमजबूरियोंके रूप में

भाग्य तो बस आपकीक़ाबिलियतदेखता हैं

जीवन में कभी किसी से अपनीतुलनामत करो

आप जैसे हैं सर्वश्रेष्ठ है ,

ईश्वर की हर रचना अपने आप में सर्वोत्तम है ,अद्भुत है

9. यदिनफाकिसी का कर ना सको तोनुकसानभी किसी का ना करना

यदिखुशकिसी को कर ना सको तोदुखीभी किसी को नाा करना

यदितारीफकिसी की कर ना सको तोबुराईभी किसी की ना करना

10. कुँए में उतरने के बाद बाल्टी झुकती है

लेकिन झुकने के बाद भर कर ही बाहर निकलती है

जीवन भी कुछ ऐसा ही है,

जो झुकता है वो अवश्य कुछ कुछ लेकर ही उठता है

जिन्दगी भी एक अंजान किताब जैसी है

अगले पन्ने पर क्या लिखा है

किसी को नही पता

विमला की क़लम से ✍🏻✍🏻