आज का विचार #परिवार और रिश्ते #जागृति #प्रेरणादायी #Quotes #

1. आप कितने भी अच्छे हो

चाहे आप कितने भी अच्छे काम कर लो

पर एक बात हमेशा याद रखना कि

आपको जो ग़लत समझता है

वह मरते दम तक आपको गलत ही समझेगा

क्योंकि नज़र का ऑपरेशन किया जा सकता है नजरिये का नही

2. जीवन में शब्द शक्ति बहुत मायने रखती है

राजा का हाथ देखकर ………..
पहला ज्योतिष – राजन !! आपके परिवार के सभी सदस्यों की मृत्यु होने के बाद आपकी मृत्यु होगी
सुनकर राजा को क्रोध आ गया
दूसरा ज्योतिष – आप अपने परिवार में सबसे दीर्घायु होंगे
दीर्घायु सुनकर राजा प्रसन्न हो गया

हमारे शब्दों में ऐसी शक्ति होनी चाहिए कि लोगों के सामने बातों को किस प्रकार रखे ताकि उनकी भावना को भी ठेस ना पहुँचे

3. दर्द एक संकेत है

आप जिंदा हो,

समस्या एक संकेत है

आप मजबूत हो,

प्रार्थना एक संकेत है

आप अकेले नही हो,

मनुष्य का हर एक दिन ईश्वर का दिया हुआ एक अमूल्य उपहार है

हर दिन एक नया अवसर है जीवन में कुछ नया या अच्छा करने का

4. उसी रिश्ते कीउम्रलंबी होती है जनाब

जहॉ दोनो एक दूसरे कोपरखतेनही समझते है

परायो को अपना बनाना सबसे आसान काम है

अपनों को अपना बनाये रखना सबसे मुश्किल काम है

5. रिश्तो में दूर या नज़दीक रहना मायना नहीं रखता

मायना रखता है प्यार ,विश्वास, आदर , भावनायें….

6. घर परिवार की इज़्ज़त बरकरार के लिये बहुत ज़रूरी है ये बात

बंद मुट्ठी लाख की

खुल गई तो ख़ाक की

मत खोला करो जिन्दगी की किताब हर किसी के सामने

कुछ पन्ने राज ही रहे तो ठीक है

6. समाज एक ऐसा बाज़ार है जहॉ

अधिकांशतया सलाह थोक में सहयोग

ब्याज पर मिलता है

7. अच्छा इंसान कभी भी मतलबी नही होता

बस वह उन इंसानों से दूर हो जाता है

जिनको उसकी कद्र नही होती

8. किसी कोमाफ़करके अच्छे बन जाओ

पर दोबाराऐतबारकरके बेवकूफ़ बनो

9. वोरहियेजो आप है और वोकहियेजो आप महसूस करते हैं

क्योंकि जो लोग बुरा मानते हैंमायने नहीं रखते

जो लोगमायने रखतेहैं वो बुरा नहीं मानते

10. अपने खिलाफ बातो पर तुरंत प्रतिक्रिया देकर

खामोशी से सुन लीजिए

यकीन मानिये वक्त बेहतरीन जवाब देगा

सब्रऔरसहनशीलतावो अंदरुनी ताकत है जो हर किसी के पास नहीं होती

11. “पतंगऔरजिन्दगीकी समानता तो देखो

जब दोनों ऊँचाई पर होते है तब तक हीवाहवाहहोती है

बेशक उड़ने का शौक रखो लेकिन साथ में गिरने का भी खौफ ना रखो

12. कुछ “रिश्ते” ऐसे होते

जिनको जोड़ते जोड़ते इंसान खुद “टूट” जाता है

रिश्ते बरकरार वहीं रहते है

जहॉसंभावनाओंको नही

भावनाओंको देखा जाता है

13.जहॉ आदर नहीं

वहॉ जाना नही

जो सुनता नहीं

उसे समझाना नही

जो राय मॉगे नही

उसे सलाह देना नही

जो पचता नहीं

उसे खाना नही

जिनको बात पचती नही

उसे बात बताना नही

जो सत्य पर भी रूठे

उसे मनाना नही

14. लोगों की बातों पर focus रखकर

अपने काम पर पूरा focus करेंगे

तो कोई भी हमारी जिन्दगी का सुकुन नहीं छीन सकता

15. कान के कच्चे लोग

आपकी उन गलतियों पर नाराज़ रहते हैं

जो आपने कभी की ही नहीं होती है

आत्मसम्मान की लड़ाई में कभी अकेले रह जाओ तो रह लेना पर किसी के सामने खुद को टूटने ना देना

खुद का सम्मान करोगे तभी दूसरों से सम्मान पाओगे

16. रिश्तो का हर रूप ख़ूबसूरत होता है

प्यार ,गुस्सा,थोड़ी जुदाई, तकरार ..

पर खुश्की अधिक नहीं रहनी चाहिये

वरना रिश्ते खुश्क हो जाते है

17. अगर किसी से “रिश्ता रखना है”

तो उससे झगड़ा कैसा ?
और अगर उससे “रिश्ता नहीं रखना”

तो फिर उससे झगड़ा कैसा ?

18. इंसान के गुण नमक की तरह होना चाहिये,

जो भोजन में रहता है मगर दिखाई नहीं देता

और अगर ना हो तो उसकी बहुत कमी महसूस होती है

19. रिश्तों को जेबो में नहीं दिलों में रखिए

क्योंकि वक़्त से शातिर कोई जेबकतरा नहीं होता

20. एक अच्छी किताब कितनी भी पुरानी हो जाए

उसके शब्द नहीं बदलते

अच्छे रिश्तो की भी यही ख़ासियत है

विमला की क़लम से ✍🏼✍🏼